Breaking News

सोनू सूद पर लगा 20 करोड़ की टेक्स चोरी और फर्जी लेनदेन आरोप, फैन्स का फूटा गुस्सा

दोस्तों बॉलीवुड के सूपरस्टार एक्टर सोनू सूद पर लगातार कई तरह के आरोप लगाये जा रहे है. अचानक से वे IT डिपार्टमेंट की पकड़ में आ गये है. बीते 3 दिनों से लगातार उनके घर पर टैक्स डिपार्टमेंट की रेड पड़ रही है और सोनू सूद को लेकर अधिकारियो ने कई खुलासे भी किये है.

उन्होंने कई जगहों की छानबीन करते हुए सोनू सूद पर 20 करोड़ रूपये और टेक्स चोरी का इल्जाम तक लगा दिया है. इसके अलावा अवैध विदेशी दान, 65 करोड़ रूपये फर्जी लेन देन के अलावा जयपुर में उनका फ़ार्म हाउस और उसके साथ 175 करोड़ रूपये के सर्कुलर लेनदेन का दावा भी किया है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि एक दिन पहले IT डिपार्टमेंट ने कहा कि सोनू सूद ने 20 करोड़ के टेक्स की चोरी की है. सोनू सूद चैरिटी फाउंडेशन, एक NGO चलाते है जिससे उन्होंने 2.1 करोड़ रूपये विदेशो से चंदा लिया है. इसके अलावा IT डिपार्टमेंट में सोनू सूद की 28 जगहों पर भी सर्च ओपरेशन किया है.

जिसमे मुंबई, लखनऊ, कानपुर, जयपुर, दिल्ली गुरुग्राम आदि शामिल है. अधिकारियो का कहना है कि सोनू सूद ने कई फर्जी इंस्टीटूशन से फर्जी और सिक्योर्ड लोन्स के रूप में बिना हिसाब से पैसे जमा किये थे. सोनू सूद जब सेव अरविन्द केजरीवाल से मिले है उसके बाद से ही उनकी मुश्किलें बढना शुरू हुई है.

अब सोनू सूद को लेकर तरह तरह की बाते कही जाने लगी है. सोनू सूद के घर पर और उनसे जुडी सभी जगहों पर छापे मारे जा चुके है. वहीँ सोनू सूद को लोग अपना मसीहा मानते है. लॉकडाउन के समय सोनू सूद ने जितनी मदद लोगो की करी है इतनी किसी ने नही की है.

इसके बाद कुछ लोग सोनू सूद से चिढ गये है और उनको फंसाने के लिए तरकीब अपनाने जा रहे है. आज सोनू सूद के करोड़ो में फैन्स है और उन्हें बहुत ज्यादा प्यार करते है. लॉकडाउन में उन्होंने लोगो की हर तरह से मदद की है. जिस किसी ने भी उनसे मदद की मांग की थी

उन्हें फोरन मदद मिली थी. सोनू सूद को लोग अपने भगवान मानने लगे है. उन्होंने जितनी मदद की थी उसे देखकर बॉलीवुड की कई सारे लोग जलने लगे थे. लेकिन छापा पड़ा तो सिर्फ सोनू सूद के घर पर. बाकी लोग करोड़ो कमाते है और न जाने उनके नाम पर कितनी करोड़ो की प्रोपटी है लेकिन उन लोगो पर कभी छापा नही पड़ेगा, इन्हें सिर्फ सोनु सूद ही दिखाई देते है.

 

About Rani Thakur

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *