Breaking News

Bipin Rawat की शहादत पर हंसने वालों को अब पुलिस ने की कार्रवाई

सेना में शामिल हर जवान का ताल्लुक सिर्फ उसके घर से नही होता बल्कि पूरा देश ही उस जवान का घर होता है , इसलिए उसकी शहादत पर न सिर्फ उसका गम में डूबा होता है बल्कि पुरे देश की आँखे नम होती है लेकिन अफ़सोस अपने खून से मिटटी को लाल करने वाले जवानो की शहादत पर हसने वालो की भी कमी नहीं है,

देश में कुछ ऐसे भी लोग है जो सेना की शहादत पर जश्न मना रहे है लेकिन ये लोग भूल जाते है की केंद्र की सरकार बदल चुकी है अब वो पहले वाली सरकार नहीं रही है और उसके मायने भी बदल चुके है अब देश की चाबी मोदी सरकार के हाथ में है और ऐसे में सेना की शहादत पर हसना उन पर बहुत भरी पड़ सकता है जिसकी उन्होंने कल्पना भी नहीं की होगी।

एक सच्चा देशभक्त बुधवार का दिन कभी नही भूल सकता। तमिलनाडु के कुन्नूर में हुए वायु सेना के हेलिकॉप्टर क्रैश में सीडीएस जनरल बिपिन रावत समेत उनकी पत्नी और 11 अन्य जवान शहीद हो गए। इस खबर को सुनकर हर कोई स्तब्ध हो गया। पूरे देश में शोक की लहर दौड़ गई

जहाँ एक तरफ़ लोग इस खबर को सुनकर अपना दुख ज़ाहिर कर रहे थे। लोगों के हाथ दुआओं में उठ रहे थे तो वहीं कुछ ऐसे भी लोग थे जो सीडीएस जनरल बिपिन रावत और जवानों की शहादत पर अपशब्द लिख रहे थे। मानो अपने अंदर की ख़ुशियाँ ज़ाहिर करने के लिए देश के चन्द लोग इतने बेताब हो गये थे की क्या लिख रहे हैं कहाँ लिख रहे हैं और इसका असर क्या होगा सब कुछ भूल चुके थे।

इन्हीं तमाम लोगों में एक नाम आता है जवाद खान का। दरअसल राजस्थान के रहने वाले जवाद खान ने सीडीएस जनरल बिपिन रावत के निधन पर सोशल मीडिया पर अपनी ख़ुशी ज़ाहिर करते हुए लिखा था की “ जहन्नुम में जाने से पहले ज़िंदा जल गया।” आप नीचे इस पोस्ट को देख भी सकते हैं।

जवाद खान ने ना सिर्फ मर्यादा की सीमा लांघी बल्कि उसने लोगों की भावनाओं को भी आहत किया। ऐसे में जवाद खान का यह पोस्ट जब सोशल मीडिया पर वायरल होने लगा तो राजस्थान भाजपा नेता लक्ष्मीकान्त भारद्वाज ने ट्वीट पर राजस्थान की टोंक पुलिस को टैग करते हुए लिखा की “ इस जाहिल जानवर, जवाद खान के ख़िलाफ़ सख़्त कार्यवाही की अपेक्षा है ” .

लक्ष्मीकान्त भारद्वाज के इस ट्वीट के बाद टोंक पुलिस हरकत में आई और जवाद खान के ख़िलाफ़ कार्यवाही करने का आश्वासन दिया। इसके बाद राजस्थान की टोंक पुलिस ने ही ट्वीट कर जानकारी दी की “ दिवंगत श्रीमान बिपिन रावत सीडीएस भारतीय सेना के विरुद्ध अमर्यादित टिप्पणी करने वाले व्यक्ति जवाद खान, उम्र 21 वर्ष, निवासी नजर बाग रोड टोंक को गिरफ़्तार कर लिया गया है, जिसपर कठोरतम विधिक कार्यवाही की जाएगी।”

तस्वीरों में आप देख भी सकते हैं की जवाद खान किस तरह से सिर झुकाकर खड़ा है। लेकिन यहाँ हैरानी वाली बात यह है की जवाद खान कोई अकेला इंसान नही है जिसने इस तरह की हरकत की हो बल्कि एक और शख्स है जिसका नाम शिवा भाई अहीर है। उसने ना सिर्फ सीडीएस बिपिन रावत के लिए अपमानजनक शब्दों का प्रयोग किया।

बल्कि दिवंगत मनोहर पर्रीकर और अजीत डोभाल के बारे में भी आपत्तिजनक शब्द लिखा। फेसबुक पोस्ट पर शिवा भाई अहीर नाम के यूज़र ने लिखा “ पुलवामा द्रोही मनोहर पर्रीकर सेना प्रमुख बिपिन रावत के बाद अब डोभाल की बारी ”

इस विवादित ट्वीट को जैसे ही भाजपा प्रवक्ता अरुण यादव ने देखा उन्होंने ट्वीट करते हुए आरोपी के ख़िलाफ़ कार्यवाही की माँग की और लिखा “ इस गद्दार के ख़िलाफ़ तुरंत कार्यवाही की जाए ” भाजपा प्रवक्ता अरुण यादव के ट्वीट के बाद अहमदाबाद पुलिस हरकत में आई और मामले को गंभीरता से लेते हुए अहमदाबाद पुलिस की साइबर क्राइम टीम ने आरोपी शिवा भाई अहीर को गिरफ़्तार कर लिया है।

ऐसे लोगों की लिस्ट में अभी और भी नाम हैं जिन्होंने इस शहादत पर जमकर ख़ुशियाँ मनायी हो। खैर ऐसी गिरी मानसिकता वाले लोगों के बारे में आपकी क्या राय है हमें कॉमेंट करके ज़रूर बताइएगा। और इसको अधिक से शेयर कर इन गद्दारो के बारे में सभी को अवगत करवाए हो सकता है आपके पास भी ऐसे कोई नमक हरक लोग पनप रहे हो।  देश के हर सैनिक की शहादत पर हमारी तरफ से श्रदांजलि।  जय हिन्द जय भारत

About NR Thakur

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *