Breaking News

अमेरिका ने भारत पर किया सबसे बङा खुलासा, जानिए

नमस्कार दोस्तों अमेरिका की खुफिया एजेंसी ने अमेरिका की संसद में एक रिपोर्ट पेश करी है और इस रिपोर्ट में भारत के बारे में भारत की जो रणनीतियां है उनके बारे में और साथ ही भारत के प्रधानमंत्री के बारे में बहुत ही विस्तृत ब्यौरा दिया गया है। आज कि हमारी पोस्ट में में आपको इसके बारे में डिटेल से बताऊंगा।

तो सबसे पहले यह जान लेते हैं कि यह कौन सी खुफिया एजेंसी है तो इस ख़ुफ़िया एजेंसी का नाम है। डिफेंस इंटेलिजेंस एजेंसी यानी कि डी आई ए है। बहुत से लोगों ने इसका नाम सुना होगा। जिस तरीके से आम लोगों की और सरकारों की जो जासूसी करती है तो उसकी जिम्मेदारी होती है। सीआईए। ठीक उसी तरीके से दुनिया भर के युद्ध और दुनिया भर की सेनाओं की जासूसी का काम संभालती है डी आई ए , यानी कि डिफेंस इंटेलिजेंस एजेंसी और इसे अमेरिका की सबसे ताकतवर एजेंसियों में से एक माना जाता है तो यह क्या करती है कि हर साल अमेरिकी संसद के सामने ही रिपोर्ट पेश करती है। इसकी सुनवाई होती है। इससे अमेरिका की संसद सवाल भी पूछती है जिसका जवाब इसे देना पड़ता है। तो इस साल की रिपोर्ट बेहद ही खास थी क्योंकि इस साल चीन और भारत के सम्बन्धों को बहुत ही largely इसमें कवर किया गया था।

इसमें जब सवाल पूछा गया अमेरिकी संसद की तरफ से कि भारत और चीन कांसेप्ट को आप कैसे देखते हैं और भारत का रिस्पॉन्स इसमें केसा रहा । सबसे पहले तो जो डी आई ए के प्रमुख है, उनका नाम एस्कॉर्ट बेरियार उन्होंने भारतीय विदेश नीति को बहुत सराहा है। कहा की 2 सालों में भारत में बहुत ही excellent काम किया है अपनी विदेश नीति में दूसरी बात उन्होंने यह कहा कि चीन के खिलाफ भारत में इस बार जो किया है ना पिछले 70 सालों में कभी नहीं किया। भारत में इस बार बेहद ही ज्यादा सख्ती बरती भारत ने ना सिर्फ चीन पर अपनी सेना से प्रेशर बनाया बल्कि चीन पर व्यापार प्रतिबंध लागू किए। चीन के बहुत सारे जो ऐप्स थे, उन पर प्रतिबंध लगा दिया।

इसके अलावा चीन से आयात होने वाले बहुत सारे सामानों पर भी रोक लगा दी। हालांकि एस्कॉर्ट यह भी कहते हैं की इससे भारत और चीन का तनाव और ज्यादा बढ़ गया। लेकिन यही शक्ति का परिणाम था कि अंततः चीन को बातचीत की टेबल पर आना पड़ा। पर इतना ही नहीं अमेरिका की खुफिया एजेंसी क्या कह रही है? अमेरिका की एजेंसी कहती है कि 2020 के पूरे साल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार विदेश नीति के मामले में हर मोर्चे पर पूरी तरीके से दृढ़ दिखाई दी ना सिर्फ चीन के मुद्दे पर बल्कि कश्मीर के मुद्दे पर भी जो DIA हैं। उसने एक बहुत ही खास बात बोली है। बेरियर ने क्या कहा कि भारत पाकिस्तान की सीमा पर मुखर बना रहा उसने आतंकवाद के रहते राज नायक बात करने से इंकार कर दिया था इतना ही नहीं भारत अपनी नीतियों को और ज्यादा ताकत और धार देने के लिए भारत ने सेना के विकास पर भी पूरा ध्यान दिया है।

भारतीय सेना के विकास पर भी DIA बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि भारत थल सेना ,वायु सेना ,और नौसेना, के मोर्चे पर तेजी से डेवलपमेंट कर रहा है। भारत ने रक्षा उत्पाद के क्षेत्र में भी महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। भारत ने डिफेंस इंडस्ट्री को बढ़ाने के लिए कई कदम उठाए हैं।भारत निरंतर हाइपरसोनिक बैलेस्टिक मिसाइल क्रूज मिसाइल इसके अलावा एयर डिफेंस सिस्टम के मामले में भी भारत ने बहुत ही रफ्तार से विकास किया है। साथ ही DIA एक बात खास तरीके से कहता है कि हम भारत के पूरे संपर्क में हैं।

भारत और अमेरिका की जो पार्टनरशिप है, बहुत ही लंबे चलने वाली है और भारत और अमेरिका की सेना यह सुनिश्चित करेगी कि इंडोपेसिफिक पूरा रीजन यानी कि पूरा दक्षिण चीन सागर पूरा हिंद महासागर यह पूरी तरीके से इंडिपेंडेंट रहे और चीन कभी भी यहां पर अपना आधिपत्य स्थापित ना कर सके और साथ में डीआईए अंत में यही कहता है कि भारत ने हर मोर्चे पर अपना लोहा मनवाया है। खासकर की विदेश नीति पर और भारत और अमेरिका के संबंध बहुत तेजी से आगे बढ़ रहे हैं। अमेरिका की खुफिया एजेंसी की इस रिपोर्ट पर आपका क्या कहना है, यह कमेंट करके जरूर बताइएगा और हमारी इस जानकारी को लाइक जरूर कीजियेगा जय हिन्द जय भारत !!

About dev kishan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *