Breaking News

ऐसे समाज जो आज दुनिया से अलग हो चुके है

दोस्तों दुनिया में कई सारे ऐसे लोग हैं जो भीड़भाड़ भरी जगहों से दूर रहना पसंद करते हैं इन लोगों को दूसरे देश और लोगों से कोई मतलब नहीं रहता ! कोरोनावायरस ने हमें आइसोलेशन में रहना सिखा दिया है आज ज्यादातर लोग दोस्तों एकांत रहना पसंद करते हैं

लेकिन क्या आप जानते हैं कुछ लोग ऐसे हैं जो बरसों से आइसोलेशन में ही रहना पसंद करते हैं यह लोग अपनी अलग ही दुनिया में रहते हैं बाहरी दुनिया में क्या चल रहा है इन कम्युनिटीज को इस से कोई मतलब नहीं है आज हम इस वीडियो में आपको 10 ऐसी ही कम्युनिटीज के बारे में बताएंगे जो पिछले कई सालों से आज तक आइसोलेशन में ही रह रहे हैं।

𝙿𝚊𝚕𝚖𝚎𝚛𝚜𝚝𝚘𝚗 𝙸𝚜l𝚊𝚗𝚍 – नॉर्थ ईस्ट न्यूजीलैंड से 3200 किलोमीटर दूरी पर एक ऐसा आईलैंड है जो सालों से दूर दुनिया से अलग बसा हुआ है इस आईलैंड पर रहने वाले लोगों की आबादी के बारे में अगर आप सुनोगे तो आपको यकीन नहीं होगा इस आईलैंड पर सिर्फ 57 लोग ही रहते हैं और यह सभी आपस में रिश्तेदार है !

दरअसल दोस्तों यहां पर 1863 में एक परिवार आकर बसा था और अभी करीब 57 लोग रहते हैं जो उनके ही खानदान से है यह आईलैंड पेसकॉक्वेशन आईलैंड के बीच है और इसकी खोज कैप्टन जेम्स कुक ने की थी इस आईलैंड पर रहने वाले लोगों के लिए दिन में सिर्फ 2 घंटे बिजली और दिन में 2 घंटे इंटरनेट उपलब्ध रहता है इतना ही नहीं दोस्तों

इस आइलैंड के पास कोई भी एयरपोर्ट नहीं है सिर्फ कार्गोशिप ही साल में एक या दो बार वहां जाती है यहां आपको शांति ही शांति मिलेगी क्योंकि इस आईलैंड पर आपको सिर्फ एक गली , एक चर्च , दो टॉयलेट, एक पुलिस और बड़ी संख्या में मछली और नारियल मिलेंगे यहां दूर-दूर तक कोई भी दुकान या कोई मॉल नहीं है।

𝚅𝚒𝚕𝚕𝚊 𝙻𝚊𝚜 𝙴𝚜𝚝𝚛𝚎𝚕𝚕𝚊𝚜 ,𝙰𝚗𝚝𝚊𝚛𝚌𝚝𝚒𝚌𝚊 – अखबारों और किताबों से लेकर फिल्म तक आपने अंटार्कटिका का नाम तो भाई सुना ही होगा और पढ़ा भी होगा कई लोग अंटार्टिका को बंजर और खाली जमीन मानते हैं लेकिन चिल्ली का एक छोटा समुदाय हैं जो इस बर्फीले विस्तार को अपने घर बना चुका है

यह टाउन कितना आइसोलेटेड है इस बात का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि यहां सिर्फ 14 घर , एक बैंक , एक पोस्ट ऑफिस , एक छोटा स्कूल , एक चर्च और बुक स्टोर है यहां की आबादी 200 से भी कम है यहां एक छोटा सा हॉस्पिटल भी है जो छोटी-मोटी बीमारियों का इलाज कर सकता है इस अस्पताल में सिर्फ एक डॉक्टर एक नर्स है ! इमरजेंसी के लिए विला के लोगों को नॉर्थ अमेरिका जाना पड़ता है।

𝚂𝚞𝚙𝚊𝚒 𝚅𝚒𝚕𝚕𝚊𝚐𝚎 ,𝙰𝚛𝚒𝚣𝚘𝚗𝚊 – दोस्तों क्या आपने सुना है कि अमेरिका जैसे सबसे बड़े देशों में एक ऐसी भी जगह है जहां की आबादी 200 लोगों से भी कम है इतने बड़े और विकसित देशों में एक ऐसा समुदाय भी है जो एकांत में रहना पसंद करता है

अमेरिका के एरिजोना राज्य में स्थित सुपाई गांव की आबादी 2011 में की गई सर्वे के मुताबिक सिर्फ 148 है इतना ही नहीं दोस्तों इस गांव में जाने के लिए कोई भी सड़क नहीं है जी हां आप सही सुन रहे हैं यहां सिर्फ हेलीकॉप्टर जाता है और 8 मील तक एक ऐसा रास्ता है जिसे पैदल या फिर खच्चर से पार करना पड़ता है हैरान करने वाली बात तो यह है

कि लोगों को यहां रहने में कोई परेशानी नहीं होती यह लोग पिछले कई सालों से इस गांव में आराम से रह रहे हैं यहां के लोग खेती पर सबसे ज्यादा निर्भर है साथ ही गांव के लोग शिकार भी सबसे ज्यादा करते हैं इस गांव के लोगों के लिए बाहरी दुनिया से डाक भी खच्चर के जरिए आता है ! 208 लोगों की आबादी वाला यह गांव हर तरह से अपने आप में खास है

यहां के लोगों की एक खास बात यह है की दुनिया से दूर रहकर भी यहां के लोग अपना कल्चर नहीं भूलते शायद यही कारण है कि सुपाई गांव के लोग इतना अलग रहना पसंद करते हैं। 𝙿𝚒𝚝𝚌𝚊𝚒𝚛𝚗 𝙸𝚜𝚕𝚊𝚗𝚍 – पेरूआ न्यूजीलैंड के बीच में पिटकेयर्न आईलैंड दुनिया की सबसे कम आबादी वाली जगह है

इस जगह में लोग पिछले कई सालों से एक तरह से आइसोलेशन में ही रहते हैं क्योंकि यह जगह भी दुनिया से दूर हटकर है ! इस आईलैंड पर भी कुल 50 लोग ही रहते हैं सरकार यहां पर बसने के लिए प्रवासियों को कई तरह के ऑफर देती है लेकिन कोई वहां जाता नहीं है

यहां के लोगों के लिए जीविका का साधन टूरिज्म , एग्रीकल्चर और हनी है और पिटकेयर्न आईलैंड का शहद पूरे न्यूजीलैंड में काफी पॉपुलर है महारानी एलिजाबेथ को भी यहां का शहद बहुत पसंद है खुद को दुनिया से अलग रखकर इस आईलैंड में रह रही कम्युनिटी आपस में भाई चारे के साथ रहती है।

𝚂𝚊𝚒𝚗𝚝 𝙷𝚎𝚕𝚎𝚗𝚊 – दोस्तों नेपोलियन का नाम तो आपने सुना ही होगा नेपोलियन को शक्तिशाली शासक के रूप में भी जाना जाता है नेपोलियन फ्रेश रेगुलेशन के दौरान चर्चा में आए थे सेंट हैलेना वही आईलैंड है जहां 1815 में बॉर्डर लू की लड़ाई हारने के बाद नेपोलियन को अंग्रेजों ने बंधक बनाकर रख दिया था

यानी की फ्रांस के प्रसिद्ध क्रांतिकारी नेपोलियन ने अपने जीवन के आखिरी पल इसी जगह में गुजारे थे सेंट हेलेना पहाड़ों से घिरा हुआ आईलैंड है और यह आईलैंड अफ्रीका के दक्षिण-पश्चिम तट से 1950 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है यह द्वीप अटलांटिक महासागर में ब्राजील से 2500 मील और वेंगोला से 1210 मील की दूरी पर है

इसकी खोज एक पुर्तगाली समुद्री यात्री ने 1502 में की थी ! नेपोलियन की मौत के बाद फिलहाल सेंट हैलेना पर करीब 4000 लोग रहते हैं यह एक ज्वालामुखी द्वीप है जो कि काफी हद तक एक बीहड़ इलाके और 500 से 700 मीटर लंबी चट्टानों के बीच बना है इस द्वीप में दोस्तों बिजली और इंटरनेट दोनों की सुविधा उपलब्ध है

लेकिन कई सालों तक यहां एक भी एयरपोर्ट नहीं था लोग केवल जहाजों से ही जाते थे लेकिन अब यहां पर एक नया एयरपोर्ट खुला है इसलिए जब भी आप यहां जाएंगे तो आपको किसी भी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। 𝚂𝚒𝚠𝚊 𝙾𝚊𝚜𝚒𝚜 -दुनिया की सबसे आइसोलेटेड कम्युनिटी में से एक सिवा खाली स्थान इजिप्ट के पश्चिमी रेगिस्तान में स्थित है सिवा का नकली स्थान एक बहुत बड़े इलाके में फैला हुआ है

और इसका जिक्र पुराने समय से ही होता रहा है यह लीबिया के सिवा से 50 किलोमीटर और कायरो से करीब 560 किलोमीटर समुद्री तल के नीचे हैं यहां के लोग फोन का इस्तेमाल कम ही करते हैं क्योंकि इस जगह पर फोन का सिग्नल बिल्कुल भी नहीं जाता है

कायरो से सिवा का फासला 9 घंटे का है और रास्ते में मिलने वाले रेगिस्तान दुनिया के सबसे रेतीले मैदान में से एक है अब अगर आबादी की बात करें तो सिवा में केवल 33000 लोग ही रहते हैं हालांकि नकली स्थान का मुख्य हिस्सा हरे भरे द्वीपों से घिरा हुआ है और यहां पानी कुदरती तौर पर पहुंचता रहता है।

𝚃𝚛𝚒𝚜𝚝𝚊𝚗 𝚍𝚊 𝙲𝚞𝚗𝚑𝚊 – दक्षिण अटलांटिक में एक ऐसा आईलैंड है दोस्तों जहां केवल 264 लोगों की ही आबादी रहती है इस आईलैंड पर रहने वाले लोग केवल दुनिया से ही अलग नहीं रहते बल्कि खुद की अलग भाषा भी बोलते हैं दरअसल अंग्रेजी इस आईलैंड की ऑफिशियल लैंग्वेज है

लेकिन स्कॉटिश , सेंट हेलिनीयन , साउथ अफ्रीकन , अमेरिकन और आयरश लैंग्वेज के शब्दों के साथ यह लोग अपनी अलग भाषा का इस्तेमाल भी करते हैं ! इस आईलैंड को भी एक वोल्केनो आइलैंड के तौर पर जाना जाता है दूसरे आईलैंड की तरह कम आबादी होने की वजह से साफ सुथरा है

यहां के लोग भी कृषि और प्रगति पर सबसे ज्यादा निर्भर है ! साउथ अफ्रीका इस आईलैंड के सबसे नजदीक है इस आईलैंड तक पहुंचने के लिए साउथ अफ्रीका के केप टाउन से हर साल 9 जहाज चलते हैं लोग 1732 मील की यात्रा करके यहां पहुंचते हैं।  बॉल का क्रेज़ इन लोगों के बीच में सबसे ज्यादा है।

About NR Thakur

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *